Suvichar | abhiman nahi hona chahiyeki muze kisi ki

Spread the love

Suvichar Abheeman nahi hina chaahiae kee mu muze keesi ki jarurt nahi padegi aur ye waham bhi nahi hona chaahiye kee meri jarurt sabako padegi,

Suvichar abhiman nahi hona chahiye ki muze kisi ki

अभिमान नहीं होना चाहिए कि
मुझे किसी की ज़रूरत नहीं पड़ेगी
और ये वहम भी नहीं होना चाहिए कि
मेरी ज़रूरत सबको पड़ेगी,

Suvichar in hindi
Suvichar in hindi
  •                Sab kuchh mahang ho gaya hai lekeen machees aaj bhi 1 rupaye par ruki hai yad rakhiye aag lagaane valo ki kimat kabhi nahi badheti hai

सब कुछ महंगा हो गया है लेकिन

माचिस आज भी 1 रूपए पर रुकी
है याद रखिए आग लगाने वालों की
कीमत कभी नहीं बढ़ती है !

Suvichar abhiman nahi hona chahiye ki muze kisi ki

केवल भाई का ही रिश्ता ऐसा
है जो पिता की तरह डांट
सकता है माँ की तरह दुलार
सकता है; बहन की तरह लड़
सकता है; और दोस्त की तरह
हर मुश्किल में साथ खड़ा रह
सकता है।

Suvichar

Keval bhai ka hi rishta yesa hai jo pita ki tarah dant sakata hai; aur ma ki tarah dular sakata hai aur dost ki tarah ki rah sakata hai

देर लगती हैं मगर समझ आ जाता हैं
कौन कैसा हैं नजर आ जाता हैं
दिखावा करते हैं कई लोग अपनेपन का, वक़्त
आने पर मालूम चल जाता है

Quotes On suvichar

गाँव में रहने वालों की नजर शहर पर
होती है..!
शहर में रहने वालों की नजर विदेश पर
होती है..!
विदेश में रहने वालों की नजर चाँद और
तारो पर है..!
फिर भी कोई सुखी नहीं है..!
सुखी वही इंसान है जिसकी नजर अपने
परिवार पर हैं..!!!

Suvichar | abhiman nahi hona chahiyeki muze kisi ki

अर्जुन ने कृष्ण से पूछा
ज़हर क्या है”..?
कृष्ण ने बहुत सुन्दर जबाब दिया…
“हर वो चीज़ जो ज़िन्दगी में
“आवश्यकता से अधिक होती है”
“वही ज़हर है”
फ़िर चाहे वो “ताक़त” हो, “धन” हो,
“भूख” हो, “लालच” हो, “अभिमान”
हो, “आलस” हो, “महत्वकाँक्षा” हो,
“प्रेम” हो या “घृणा”..
“जहर ही है”…

Suvichar  abhiman nahi hona chahiye

Jeenhe bar_bar bukhar aati hai unhe geeloya ka ras pina chaahiye | gloy me

जिन्हे बार-बार बुखार आता है उन्हें
गिलोय का रस पीना चाहिए।
गिलोय में हर तरह के बुखार को
खत्म करने के गुण होते हैं।

Duniya unhi ki khairiyat puchhti hai jo pahale se hi khush ho jo takalif me hote hai unake to number tak khojate hai khud ko bikharane mat dena kabhi kisi hal me log gire huye makan ki itatak lejate hai pavitr rishta ajib tarah ke log hai isduniya me agarabatti bhagavan keliye kharidate hai khushbu khud ki pasand ki kharidate hai

दुनिया उन्ही की खैरियत पूछती है
जो पहले से ही खुश हों.
जो तकलीफ में होते हैं
उनके तो नंबर तक खो जाते हैं
खुद को बिखरने मत देना
कभी किसी हाल में,
लोग गिरे हुए मकान की
ईटें तक ले जाते हैं! पवित्र रिश्ता
अजीब तरह के लोग हैं इस दुनिया में,
अगरबत्ती भगवान के लिए खरीदते हैं,
और खुशबू खुद की पसंद की तय करते हैं!

Abheeman nahisi ahi padegi aur ye waham bhi nahi hona chaahiye kee meri jarurt
Abheeman nahi hina chaahiae kee mu muze keesi ki jarurt nahi padegi aur ye waham bhi nahi hona chaahiye

Suvichar  abhiman nahi hona chahiye ki muze kisi ki

47 sal purani film bobi ke aek gane me prsan puchha tha…. andar se koi bahar na ja sake ….bahar se koi andar n aasake sochoo kabhi yesa ho to kya ho sahi utar …. Korona

47 साल पुरानी फिल्म बॉबी के
एक गाने में प्रश्न पुछा था….
अंदर से कोई बाहर ना जा सके…
बाहर से कोई अंदर न आ सके…
सोचो कभी ऐसा हो तो क्या हो….
सही उत्तर है…… कोरोना….. तू

Jolog aapaki sahi bato ka bhi galat matalab nikalate hai unako safai dene me aapana samay barbad na kare

जो लोग आपकी सही
लोग आपकी सही
बातो का भी गलत मतलब निकालते है
उनको सफाई देने में अपना समय
बर्बाद न करे।

Hindi suvichar ke liye yaha click kare

1 thought on “Suvichar | abhiman nahi hona chahiyeki muze kisi ki”

Leave a Comment