Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi

Spread the love

Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi

मतलबी हम थे जो उन्हें,
जाने क्या-क्या समझ बैठे ।
वो तो सिर्फ वक्त बिता रहे थे Mouth Shayari | Shayari on mouth and chin

और हम प्यार समझ बैठे । Maut shayari

किसी की अच्छाई का भी फायदा
मत उठाओ कि वह बुरा बनने को
मजबूर हो जाए..!
याद रखना.. बुरा वही बनता
है जो अच्छा बनकर थक
चुका होता है।।।

Shayari on Maut and Zindagi

ना जाने कौन सा सुकून है,
इस कफन के कपड़े में,
जो भी ओढ़ता है,
चैन से सो जाता है…

पता नहीं किस कलम से
किस्मत लिखी है मेरी जब भी
कोशिश करते खुश होने की
हैं तब तब मुझे एक नया दर्द
मिलता है ।।

रास्ता थोड़ा आसान कर देना ऊपर वाले
क्योंकि साथ चलने वालों ने रास्ते
बदल दिए है..!!

हम वो कश्ती है जिसका कोई किनारा
ना हुआ सभी के हो गए हम
मगर कोई हमारा ना हुआ….

दुनिया को झूठे लोग ही पसन्द आते हैं।
थोड़ा सा सच कह दो तो अपने ही रूठ जाते हैं ।
लोगों से रिश्ते निभाकर एक ही बात सीखी हैं
किसी की हद से ज्यादा फिक्र करोगे तो वह इंसान आपको फालतू समझने लगेगा..!!

सिर्फ धोखा देना ही धोखा नहीं होता
बल्कि किसी के साथ अपनेपन का
नाटक करना उससे भी बड़ा
धोखा होता है !!

तमन्ना थी कि कोई टूट कर चाहे हमें,
मगर हम खुद ही टूट गए,
किसी को चाहते चाहते।

जिंदगी बहुत कुछ सिखाती है,
थोड़ा रुलाती है थोड़ा हसाती है,
खुद से ज्यादा किसी पे
भरोसा मत करना तो परछाईं
भी साथ छोड़ जाती है!
क्योंकि अँधेरे में

Sad status in hindi

Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi
Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi

मेरे अलावा काफी लोग है उसकी जिंदगी में…
अब मैं रहूँ या ना रहूं क्या फर्क पड़ता है…।

रोता वही है जिसने महसूस किया
हो सच्चे रिश्ते को वरना मतलब
का रिश्ता रखने वालों की आँखों में
ना शर्म होती है ना ही पानी

किसी को अपनी जान से
ज्यादा चाहने का इनाम
दर्द और आंसू के अलावा
कुछ नहीं मिलता….

एक फूल बहुत अजीब था
वो कभी मेरे दिल के करीब था
जब चाहने लगे उसे हद से भी ज्यादा
तो पता चला वो हमसे भी ज्यादा
किसी और के करीब था….

मेरी लाइफ की तीन गलतियां
1. हर किसी पर बहुत जल्दी
भरोसा किया…
2. हर किसी की खुद से
ज्यादा परवाह की…
3. कभी किसी को धोखा
नहीं दिया…

इंसान सच में हार जाता है
खामोश रहते रहते सब्र करते करते
रिश्ते निभाते निभाते सफाइयां देते देते
अपनों को मनाते मनाते

कितने शौक से छोड़ दिया तुमने
बात करना जैसे सदियो से तेरे ऊपर
कोई बोझ थे हम

मेरी बातों से तो बड़ी तकलीफ थी उन्हें ।
उम्मीद है कि अब मेरी,
खामोशी पसन्द आयी होगी ।

दिल से बात करना और दिल रखने के लिए
बात करना दोनों में बहुत फर्क होता है।

न मौत से दूर हूँ,
न ज़िन्दगी के पास हूँ ।
साँसें चल रही हैं,
एक ज़िन्दा लाश हूँ ।।

इंसान को अपनी औकात का पता तब
चलता है जब उसे वहाँ से ठोकर मिले जहाँ
उसने सबसे ज्यादा भरोसा किया हो !!

जिंदगी और मौत पर शायरी

Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi

हमारे स्टेटस सिर्फ पढ़ने के लिए नही है,
समझने की कोशिश करोगे तो,
बहुत कुछ समझ जाओगे..!!

एक हद तक दर्द सहने के बाद इंसान
खामोश हो जाता है और न फिर वो किसी से
शिकायत करता है और ना ही किसी से
उम्मीद रखता है

जीते थे हम भी कभी शान से
महक उठी थी जिंदगी
किसी के नाम से
मगर फिर गुजरे ऐसे मकाम से
कि नफरत सी हो गई.
मोहब्बत के नाम से…!

आँसू आ जाते है रोने से पहले,
ख्वाब टूट जाते है सोने से पहले,
लोग कहते है मोहब्बत गुनाह है,
काश कोई रोक लेते गुनाह होने
से पहले।

मेबी जिंदगी में दर्द तो बहुत हैं मगर,
कभी किसी को दिखाया नहीं…
और बिना दिखाए मेरे दर्द को कोई,
समझ सके ऐसा खुदा ने मेरे लिए,
कोई बनाया ही नहीं….!!

सच तो हम बहुत पहले से जानते थे
बस देखना चाहते थे कि लोग झूठ
कहां तक बोल सकते है…

बहुत इग्नोर करते हो ना देखना एक दिन
तुम्हारे पास सब होंगे पर मैं नहीं तब
तुम सोचौंगे कि कोई था मेरी लाइफ में जो
पागलों की तरह walit किया करती थी..!

कोई कहे कि हम आपका साथ देंगे तो
पूछ लेना कि कब तक…
क्योंकि यहाँ लोग अपना बनाकर
पराया करने में देर नहीं लगाते…

जब किसी को हमारी,
वजह से तकलीफ़ हो ।
तो उसकी ज़िन्दगी से,
दूर जाना ही बेहतर होता है ।

मौत की दुआ शायरी

Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi
Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi

अक्सर अकेले ही रह जाते हैं
वो लोग ! जो खुद से भी ज्यादा
दूसरों की परवाह करते हैं ।

कभी मिले फुर्सत तो इतना जरुर
बताना वो कौनसी मोहब्बत थी
जो हम तुम्हे ना दे सके

काश हमें पता होता की तुम
हमारे साथ ऐसा करोगे
तो सच मानो रिश्ता जोडने से
पहले हाथ जोड लेते.

नहीं है कोई इस दुनिया में मुझे समझनवाला
एक आश तुमसे थी वो भी टूट गयी

तेरी खुशी ज़रुरी है हमारा बात करना नहीं
अगर तुम्हें खुशी मिलती हैं. हमसे बात
ना करके तो हम दुआ करते हैं कि तुम्हारी
खुशी कभी कम ना हो ।

पत्थरों से प्यार किया नादान थे हम…
गलती हमसे हुई क्योंकि इंसान थे हम…
आज जिन्हें हमसे बात करने में तकलीफ
होती हैं कभी उस शख्स की जान थे हम…

  • zindagi maut shayari

मेरे अलावा काफ़ी लोग हैं उसकी
जिंदगी में अब मैं रहूं या ना रहूं
क्या फ़र्क पड़ता है उसे..!!

तेरी खुशी जरुरी है हमारा बात करना नहीं
अगर तुम्हें खुशी मिलती हैं हमसे बात
ना करके तो हम दुआ करते हैं कि
तुम्हारी खुशी कभी कम ना हो ।

ऐन नहीं वो रात नही वो पहले जैसे
जज़्बात नही होने को तो हो जाती है
बात उनसे मगर बातो में भी पहले
जैसी बात नही!

से ज्यादा बढ़ जाता है..
तो इंसान रोता नहीं, बस
खामोश हो जाता है..

किसी को कितना भी अपना मान लो,
एक दिन पराया होने का
अहसास दिला ही देता है।

एक बात बोलूँ Life में सारे खेल खेलना
लेकिन किसी की Feeling के साथ
कभी मत खेलना बहुत तकलीफ होती है….।।

कभी वक्त मिले तो सोचना जरूर ।
वक्त और प्यार के अलावा,
तुमसे माँगा ही क्या था ।।

कुछ बातें कांटों से भी ज्यादा तेज चुभती है
कांटों से मिला घाव तो कुछ दिनों में
भर जाता है पर दिल पर लगी बात
जिंदगी भर याद रहती है।

तूम्हें अपना बोलने के लिए SORRY
तूम्हारी लाईफ में आने के लिए SORRY
तूम्हें प्यार करने के लिए SORRY
और मुझे मेरी औकात बताने के लिए
THANK YOU

maut ki dua shayari in hindi

कभी किसी से बात करने की आदत
मत डालना क्योंकि जब वह बात करना
छोड़ देता है तो जीना मुश्किल हो जाता है।

सब्र रखो ! बहुत ही जल्द,
महसूस होगा तुमको |
मेरा होना क्या था,
और मेरा न होना क्या है ॥

कितना और दर्द देगा बस इतना
बता दे, ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती
मिटा दे, यूं घुट घुट के जीने से तो
मौत बेहतर है, मैं कभी न जागूं मुझे
ऐसी नींद सुला दे।

जकले चलना सीखें क्योंकि सहारा प्यार
और यार कितना भी सच्चा हो एक न
एक दिन अपनी औकात दिखा ही देते हैं

“जिंदगी” नहीं “रुलाती” है,
रुलाते तो वह लोग हैं,
जिन्हें हम अपनी जिंदगी समझ
बैठते हैं..!!!

हमारी उदासी हर कोई
नहीं समझ सकता क्योंकि
हम किसी से मिलते है तो पहले ही
मुस्कुरा देते हैं…!!

अगर मैं मर जाऊं तो रीना मत तुम ।
ये सोचकर खुश होना कि,
ज़िन्दगी से एक खत्म हुई ॥

माना कि किसी से ज्यादा
नाराज नहीं रहना चाहिए,
लेकिन जब सामने वाले को
हमारी जरूरत ही नहीं तो
जबरदस्ती के रिश्ते
रखने से कोई मतलब नहीं…

मौत बेवफा शायरी | maut shayari in hindi for girlfriend

Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi

मैं भी कितना पागल हूं ना
वो इग्नोर करते रहते हैं
फिर भी हम बेशर्म की तरह
उनके पास मैसेज करते रहते हैं..

तुम क्या समझोगे मुझे
तुम तो किसी और को खुश करने
में बिजी हो !

आप को जिस से खुशी मिले उसी से
बात करो हमारा क्या हम कल भी
अकेले थे और आज भी अकेले हैं..!!

1 thought on “Maut shayari | Shayari on Maut and Zindagi”

Leave a Comment