Aayo re shubh din aayo re | याद तो रोज आते होआप पर कभी-कभी

Spread the love
  • Aayo re shubh din aayo re याद तो रोज आते होआप पर कभी-कभी आपकी याद इतनी आती है कि रूला देती है

बस इतनी सी है मेरी मोहब्बत.तुझे सोचते
सोचते सो जाते है
और तुझे याद करते करते
उठ जाते हैं..!!

Shubh din घटिया लोगों की 

घटिया लोगों की
सबसे बड़ी पहचान है
कि उनको जितनी इज्जत दोगे
वो आपको उतनी ही देंगे.

Aayo re shubh din aayo re याद तो रोज आते होआप पर कभी-कभी

हाथी से हजार गज की दूरी
रखे,घोड़े से सौ हाथ की,
सींग वाले जानवर से दस
हाथ की दूरी रखिए,
लेकिन दुष्ट इंसान जहाँ हो ,
वह स्थान ही त्याग देना चाहिए।

जब हम बड़े हो जाते हैं तब हमें
पेंसिल के बदले पेन इसलिए
दिया जाता हैं ताकि हम यह
बात समझ जाए कि हमारी
गलतियों को मिटाना अब
आसान नहीं हैं।

कोई हमारा बुरा करे ये उसका कर्म है लेकिन हम किसी का बुरा न करें ये हमारा धर्म है ! Koi humara dura kare ye usaka karm hai lekin hum kisi ka dura na kare humara dharm hai

Aayo re shubh din aayo re याद तो रोज आते होआप पर कभी-कभी
Aayo re shubh din aayo re याद तो रोज आते होआप पर कभी-कभी

Shubh din aayo mangal badhayo पछतावा अतीत नहीं बदल सकता

पछतावा अतीत नहीं बदल सकता
और चिंता भविष्य नहीं संवार सकती।
इसलिए वर्तमान का आनंद लेना ही जीवन का
सच्चा सुरव है। Aayo re shubh din aayo re

कोई हमारी गलतियाँ निकालता है तो,
हमें ख़ुश होना चाहिए..!
क्योंकि कोई तो है जो हमें पूर्ण पवित्र
बनाने के लिए..!
अपना दिमाग़ और समय दे रहा है..!! Aayo re shubh din aayo re

ठंड के मौसम में अपनी जान अपने पास हों तो
मजा ही कुछ और हैं.!thand ke mousam me apani jan pas ho to maja hi kuchh aur hai

हम इतना लड़ते है तो है क्या हआ प्यार भी तो बस तुमसे
ही करते है hum itana ladate hai to hai kya huwa pyar bhi to bus tumhase hi karate hai Aayo re shubh din aayo re

दिल में इस क़दर मोहब्बत हैं आपके लिए
सोए तो ख्वाब आपके, और
जागे तो ख्याल आपके shubh din aayo re

Aayo re shubh din aayo re याद तो रोज आते होआप पर कभी-कभी

जो आपकी बुराई करते हैं उन्हें करने दो क्योंकि बुराई वही करते हैं जो बराबरी नहीं कर सकतेरिश्ता वही मजबूत होता है, जिसमे. एक दूसरे से कोई बात छुपाई नहीं जाती…!

Shubh din hai कितने खुबसूरत हुआ करते थे।

कितने खुबसूरत हुआ करते थे। बचपन के वो दिन…
जिसमें दुश्मनी की जगह सिर्फ एक कट्टी हुआ करती थी और सिर्फ दो उंगलिया जुडने से दोस्ती फिर शुरू हो जाती थी

बीता हुआ कल कभी वापस नहीं आता, पर बीते हुवे
कल में लोगों का बर्ताव हर वक़्त याद ज़रूर आता है..  bita huaa kal kabhi wapas nahi aata par ite huwe kal me logoka bartman har waqt yad jarur aata hai

जब इंसान का स्वार्थ पूरा हो जाता है , तब वह
आपसे मिलना तो दूर आपसे बोलना भी छोड़ देता है jab insan ka swarth pura ho jata hai tab wah aapase milanatao dur aapase bolana bhi chhod deta hai

Shubh din aagaya इंसीई करता हैं लड़ता हैं,

इंसीई करता हैं लड़ता हैं, झगड़ता है,
रोकता हैं, टोकता हैं..
सिर्फ उस इंसान को जिसे वह प्यार करता
हैं जिसे अपना समझता हैं.. shubh din aayo re
वरना इस मतलबी दुनिया में किसी को
क्या फर्क पड़ता हैं कि आप सही कर रहे हो
या गलत इसलिए किसी रिश्ते को खत्म करने से
पहले सोच अवश्य लेना चाहिए

हर खुशी को खुशी मत समझो, हर गम को गम मत समझो, अगर इस दुनिया में जीना है, खुद को किसी से कम मत समझो..

हम चेहरे से सुंदर नहीं
पर दिल के साफ है, इसलिए तो हम बहुत कम
लोगो के खास है!!hum cheharese sunder nahi par dil ke saf hai isaliye to hum bahut kam logo ke khass hai shubh din aayo hai

Romantic good morning shayari

Leave a Comment