Waqt sabhi ko milata hai jindagi badalane ke liye

Spread the love

Waqt sabhi ko milata hai jindagi badalanej ke liye

वक़्त सभी को मिलता है,
जिंदगी बदलने के लिए,
पर जिंदगी दोबारा नहीं मिलती,
वक़्त बदलने के लिए…!

तड़पाने वाला क्या जाने इंतजार
क्या होता है,
और वक्त गुजारने वाला क्या
जाने प्यार क्या होता है।

देर लगती है मगर….
समझ आ जाता है,
कौन कैसा है नजर आ जाता है
दिखावा करते हैं कुछ लोग
अपनेपन का, वक्त आने पर सब
समझ आ जाता है…..

दिल चाहे कितना भी
तकलीफ में हो
तकलीफ देने वाला
दिल में ही रहता है

पता नहीं क्यों पहले की तरह अब
कुछ भी अच्छा नहीं लगता
जितना हंसने की कोशिश करते हैं
उतना ही ज्यादा आंसू आने लगते हैं….

सारे रिश्तो को..
निभा कर देख लिया मैंने
आखिर में समझ आया
कि मां बाप के अलावा
कोई किसी का नहीं होता..

अगर मेरी किसी बात
से आपका दिल दुखा है
तोदुआओौं मेरी मौत मांगना

अगर मेरी किसी बात
से आपका दिल दुखा है
तोदुआओौं मेरी मौत मांगना

ये दुनिया भी उसे रुलाती
जिसके पास आंसू पोछने वाला
कोई नहीं होता

मरने के लिए मजबूर ना करे ए जिंदगी
जीने दे हमें भी,
तेरी कसम हर तरफ से हार रहे हैं हम…

आदत बदल गयी है
वक्त काटने की,
अब तो हिम्मत भी नहीं होती
किसी से अपना दर्द बांटने की

Waqt sabhi ko milata hai jindagi badalane ke liye

जिंदगी का सबसे बुरा लम्हा वो है,
जब कोई अपना आपको इतने दुःख दे
की आँखें भर जाए और वही पूछे क्या हुआ
और आपको मुस्कुराकर कहना पड़े कुछ नहीं।

तुम्हारे सिवा कोई नहीं है मेरा
छोड़ कर तो देखो मौत
खड़ी है मुझे गले लगाने को

चलो जो हुआ अच्छा हुआ
पता तो चला कि
वक्त के साथ साथ
इंसान भी बदलते हैं..

मैं इस काबिल तो नही कि
कोई अपना समझे
पर इतना यकीन है
कोई अफसोस जरूर करेगा मुझे
खो देने के बाद

कुछ दिल की मजबूरियां थीं
कुछ क़िस्मत के मारे थे
साथ वो भी छोड़ गए जो जान
से प्यारे थे…

अकेले चलना सीखो क्योकि
सहारा कितना भी सच्चा
एक दिन औकात दिखा
ही देता है

जिस इंसान के बिना हम
एक पल नहीं रह सकते
वही इंसान हमें अकेले रहना
सीखा देता है।।

मतलबी नहीं हूं मैं मगर हां खुद क
दूर कर लिया है उन लोगों से…..
जिन्हें मेरी कदर नहीं थी!

तेरे बदलने का
दुःख नहीं है मुझको
मै तो अपने
यकीन पर शर्मिंदा हूं।

जिन्हें फर्क नहीं पड़ता मेरे रोने से
उन्हें क्या महसूस होगा मेरे
होने या ना होने से

आंसू बहाने से कोई,
अपना नहीं हो जाता
जो अपने होते हैं
वो कभी रोने ही नहीं देते

अब तो तुम खुश हो ना
जैसे तुम चाहते थे वैसे हो गये
अब मैंने call, sms करना छोड़ दिया।
अच्छा है ना
बस तुम हमेशा खुश रहना

किसी के प्यार करने की आदत को
उसकी कमजोरी मत समझना
अगर वो हद से ज्यादा प्यार कर सकता है तो वक़्त आने पर
हद से ज्यादा नफ़रत भी कर सकता है।

कल भी हम तेरे थे
आज भी हम तेरे हैं
बस फर्क इतना है
“कल अपनापन था”
आज अकेलापन हैं।।

Waqt sabhi ko milata hai jindagi badalane ke liye

Waqt sabhi ko milata hai jindagi badalane ke liye

तुम्हारी खुशी के लिए
तुमको छोड़ा है
ये मत सोचना हमको
कोई और मिल गया

था कोई जो मेरे दिल को जख्म दे गया,
ज़िन्दगी भर रोने की कसम दे गया
लाखों फूलों में से एक फूल चुना था
मैंने जो काटों से भी गहरा ज़ख्म दे गया..

छोड़ दी अब उससे,
वफ़ा की उम्मीद
जो रुला सकता है
वो भुला भी सकता है..

रोज एक नई तकलीफ,
रोज एक नया गम..
न जाने कब ऐलान होगा,
कि मर गए हम..

पकी जिंदगी में उनके
खास लोग ही इतने हैं कि
उनको मेरी कमी
महसूस होती ही नहीं है..

मेरे अलावा काफी लोग हैं उनकी
जिंदगी में
अब मैं रहूं या ना रहूं क्या फर्क
पड़ता है!!

Leave a Comment